Sultanpur

मेरे नैना सावन भादो, फिर भी मेरा मन प्यासा!

ट्रिपल इंजन की सरकार, फिर भी सड़क बनी तलाब

नगर क्षेत्र की महुअरिया सड़क बदहाल

नौनिहालों की पीड़ा भी नही सुन रही सरकार

आखिर कब खुलेगी जनप्रतिनिधियों की कुम्भकर्णी नींद

सुलतानपुर(विनोद पाठक)। सांसद बदले, विधायक बदले, बदले गए नगर पालिका चेयरमैन। पर, नहीं बदलीऔर न बदली जा सकी तो नगर क्षेत्र के महुआरिया सड़क की तस्वीर।इस सड़क की तस्वीर बदलने के लिए भाजपा की ट्रिपल इंजन की सरकार है। इस पर एक गाना फिल्म का एकदम सटीक बैठता है कि “मेरे नैना सावां भादो फिर भी मेरा मन प्यासा”। गौरतलब हो कि नगर पालिका क्षेत्र की महुआरिया सड़क लखनऊ और वाराणसी मार्ग जोड़ने का अहम हिस्सा है। नगर क्षेत्र की इस महत्वपूर्ण सड़क की हालत और जो तस्वीर सामने है, बेहद शर्मनाक है। वाराणसी और लखनऊ को जोड़ने वाली महुआरिया सड़क के बीच नगर क्षेत्र के दो महत्वपूर्ण और चर्चित विद्यालय सेंट जेवियर और शेम्फोर्ड विद्यालय भी स्थित है। इसी सड़क से करीब 6000 बच्चे रोज आते-जाते हैं। इसके अलावा भी इस सड़क पर यातायात का भारी दबाव रहता है। बावजूद इसके सड़क के मरम्मतीकरण को लेकर नगर पालिका से लेकर जिला प्रशासन उदासीन बना हुआ है। सड़क की हालत इतनी बदतर हो गई है कि सड़क में तालाब है, या तालाब में सड़क, इसका सहज अंदाजा नहीं लगाया जा सकता। इस सड़क से गुजरना जोखिम भरा रहता है। लेकिन “मरता क्या न करता” है कि तर्ज पर मोटरसाइकिल और स्कूटी सवार जान जोखिम में डालकर तालाब नुमा बनी सड़क को पार करते हैं। कभी कभार तो बाइक सवार गिरकर चोटिल ही नहीं होते हैं, बल्कि उनका सारा कपड़ा खराब हो जाता है। सबसे ज्यादा दिक्कत साइकिल और पैदल चल कर इस स्कूल में पहुंचने वाले नौनिहालों का है। तालाब में तब्दील सड़क के मरम्मतीकरण के लिए न तो नगरपालिका और न ही जिला प्रशासन आगे आ रहा है। जिससे समस्या ज्यों की त्यों बनी हुई है। नगर वासियों ने मांग की है कि जनहित को देखते हुए सड़क का अभिलंब मरम्मतीकरण कराया जाए, जिससे समस्या का समाधान हो सके। फिलहाल ट्रिपल इंजन की सरकार होने के बावजूद भी सड़क अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रही है। भाजपा का सांसद, विधायक और नगर पालिका चेयरमैन भी है,लेकिन सड़क को बनवाने के लिए कोई आगे नहीं आ रहा है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button