Sultanpur

पूर्व विधायक चंद्र प्रकाश मिश्र मटियारी के खिलाफ धनपतगंज थाने में मुकदमा दर्ज

गौरीगंज के पूर्व विधायक है “मटियारी”

सुल्तानपुर(गुलफाम अहमद)। अमेठी जिले के गौरीगंज विधानसभा के पूर्व विधायक चन्द्र प्रकाश मिश्र मटियारी के खिलाफ धनपतगंज पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। मटियारी पर रेलवे में नौकरी दिलाए जाने के नाम पर ₹6 लाख की ठगी करने का आरोप है। पुलिस ने सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी है।अमेठी जिले के जूठी निवासी मटियारी पर लगभग तीन साल पहले रेलवे में ग्रुप डी की नौकरी दिलाने के नाम पर ₹6,00000 रिश्वत लेने का आरोप है। पीड़ित के बयान व दर्ज प्राथिमिकी के अनुसार पूरे विष्णु दत्त पीपरगांव निवासी शिवशंकर तिवारी पुत्र मेघवर्ण तिवारी ने अपने भतीजे कुश कुमार पुत्र निशाकान्त को रेलवे में सर्विस दिलाने के लिए पूर्व विधायक को बतौर रिश्वत छः लाख रुपये दिया। पीड़ित शिवशंकर और निशाकान्त ने रुपया तीन लाख नगद और तीन लाख रुपए क्रमशः दिनांक 13 सितम्बर 2018 ग्रामीण बैंक हरौरा बाजार और 23 जुलाई 2019 को केनरा बैंक धनपतगंज की शाखा में संचालित खाता से जारी चेक के माध्यम से दिया।निर्धारित समय बीत जाने के बाद भी बेटे को नौकरी न मिलने और पूर्व विधायक द्वारा हर बार नई तारीख़ देकर आश्वासन से आजिज़ आकर दिए गए पैसे वापस करने की मांग की जाने लगी।बतौर पीड़ित दिनांक 12 दिसम्बर 2020 को पूर्व विधायक चन्द्र प्रकाश मिश्र मटियारी अपने कुछ समर्थकों के साथ उसके पैतृक निवास पीपरगांव आये।बातों में उलझकर उसका मोबाइल फोन लेकर सभी डिटेल डिलीट कर दिए।और चुपचाप बैठ जाने की हिदायत देते हुए वापस चले गए। तब शिवशंकर और निशाकान्त
को अपने साथ ठगी होने का अहसास हुआ। पीड़ित भाइयों ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से मिलकर पूरी दास्ताँ बताई। श्रीमती ईरानी ने तत्काल पुलिस अधीक्षक सुल्तानपुर से बात करते हुए विधिक कार्यवाही करने का निर्देश दिया। पुलिस अधीक्षक ने मामले की संवेदनशीलता भांप कर धनपतगंज पुलिस को प्राथिमिकी दर्ज करने का आदेश दिया। थानाध्यक्ष मनोज कुमार शर्मा ने पीड़ित व्यक्ति की तहरीर पर तत्काल सुसंगत धाराओं (406,420) में मुकदमा दर्ज कर लिया।पुलिस ने विवेचना भी शुरू कर दी है।उल्लेखनीय है कि आरोपी चन्द्र प्रकाश मिश्र”मटियारी” गौरीगंज से हाथी की सवारी कर विधानसभा का प्रतिनिधित्व कर चुके है।और मौजूदा समय में बीजेपी में सक्रिय है। दर्ज प्राथिमिकी से मटियारी की मुश्किलें बढ़ना तय है। पूर्व विधायक पर हुई एफआईआर से राजनैतिक गलियारों में चर्चाओं का बाज़ार गर्म हो चला है। थानाध्यक्ष मनोज कुमार शर्मा बोले, मुकदमा दर्ज कर साक्ष्यों के आधार पर की जा रही कार्रवाई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button