Uttar Pradesh

महंत धर्मेंद्र गिरी को आई धमकी भरी ’फोन काॅल से खलबली’

जैंत थाने में रिपोर्ट दर्ज करने के बाद मथुरा पुलिस ने शुरू की जांच
-इसी साल 13 अप्रैल को भी जैंत थाने में दर्ज कराया था मुकदमा

मथुरा(पी.के आर्यन)वृंदावन के महामंडलेश्वर धर्मेंद्र गिरी को एक बार फिर धमकी भरा कॉल आने के बाद पुलिस ने मामले को गंभीरता से लिया है। पुलिस जांच में जुट गई है। तीन महीने में महामंडलेश्वर दूसरी बार धमकी मिली है। धमकी देने वाले ने चार मिनट सात सेकिंड फोन पर बात की। इस बार फोन करने वाले ने खुद को अल कायदा का सदस्य बताते हुए कहा कि जब तक नुपूर शर्मा को फांसी नहीं लग जाती है, तब तक उदयपुर जैसी घटना को दोहराने की बात कही। महामंडलेश्वर धर्मेंद्र गिरी को आए धमकी भरे फोन कॉल के बाद जैंत पुलिस ने अज्ञात शख्स के खिलाफ मुकद्दमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। थाना प्रभारी मनोज शर्मा ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है। महामंडलेश्वर धर्मेंद्र गिरी ने इस मामले में तीन जुलाई को थाना जैंत पर दर्ज आईपीसी की धारा 295 ए, 507 में रिपोर्ट दर्ज कराई है। वृंदावन के लोटस गार्डन कॉलोनी में रहने वाले महामंडलेश्वर धर्मेंद्र गिरी को शनिवार देर शाम ये फोन कॉल आया। कॉल करने वाले शख्स ने गृह मंत्री अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व असम के मुख्यमंत्री हेमंत विश्वा को भी बम से उड़ाने की भी धमकी दी। इस मामले में जैंत पुलिस ने अज्ञात शख्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। थाना प्रभारी मनोज शर्मा ने बताया कि मुकदमा दर्ज किया गया है, जांच की जा रही है।

13 अप्रैल को भी दर्ज कराई थी एफआईआर
इससे पहले अप्रैल के महीने में धमकी भरा फोन आया था। इस मामले में 13 अप्रैल 2022 को जैंत थाने में महामंडलेश्वर धर्मेंद्र गिरी ने आईपीसी की धारा 295 ए, 504 व 507 में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। थाना जैंत में दर्ज कराई गई इस रिपोर्ट में कहा गया था कि महामंडलेश्वर धर्मेंद्र गिरी की आस्था हिन्दू धर्म में है। वह भारत को हिन्दू राष्ट्र घोषित कराने के लिए प्रयासरत हैं। उनके द्वारा अपने धर्म और संस्कृति का प्रचार प्रसार किया जा रहा है। इसी कारण कई बार लोगों द्वारा फोन पर डराया धमकाया जाता है। अभद्र भाषा का प्रयोग करते हैं और जान से मारने की धमकी देते हैं।

महामंडलेश्वर ने प्रधानमंत्री को लिखा है पत्र
महामंडलेश्वर धर्मेंद्र गिरी ने खून से प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है। इस बारे में उन्होंने बताया कि आज देश की जो दुर्दशा है जिसमें जैहादी और आतंकवाद पूरी तरह से फैल चुके हैं। इससे मुक्ति पाने का सिर्फ एक ही रास्ता और विकल्प है कि भारत हिन्दू राष्ट्र घोषित हो। प्रधानमंत्री के सामने अपनी मांग रखेंगे। देश से आतंकवाद को समाप्त करने का एक ही रास्ता है कि देश को हिन्दू राष्ट्र घोषित किया जाए।

आज शाम लगभग 7 बजकर 53 मिनट पर मुझे एक अनजान नम्बर से मुझे फोन आया जिसमें बोला गया कि में प्राइज दूंगा, मुझे बोला गया कि जैसे उदयपुर में दर्जी की हत्या की गई है उसी तरीके का एक प्राइज और जल्द ही दुंगा। मैंने उससे अनजान बन कर बात करना शुरू किया। इस तरीके की जो घटना मेरे साथ की गई है, उससे में बुरी तरह से आहत हूं। भारत को हिन्दू राष्ट्र घोषित कराने के लिए 12 मार्च 2022 से आश्रम मंे लगातार महायज्ञ चल रहा है।
-धर्मेंद्र गिरी, महामंडलेश्वर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button