Sultanpur

पांच ‘फार्मूले’ के “धनी” भाजपा प्रत्याशी शैलेन्द्र प्रताप

इसी कार्यशैली पर टिकी निवर्तमान एमएलसी की राजनीति

तीस साल का राजनैतिक सफर

24 वर्ष से हैं विधान परिषद सदस्य

सुल्तानपुर(विनोद पाठक)। विधान परिषद सदस्य के भाजपा प्रत्याशी शैलेंद्र प्रताप सिंह भले ही भारतीय जनता पार्टी में अभी हाल ही में शामिल हुए हो, लेकिन भाजपा के उस नारे को अपने राजनैतिक जीवन में आत्म सार किए हैं, जिन्हें पार्टी लेकर चल रही है। भाजपा का जो मिशन है जनता को जोड़ने का। उस फार्मूले पर निवर्तमान एमएलसी शैलेंद्र प्रताप सिंह की राजनीति एकदम सटीक बैठती हैं। भाजपा का फार्मूला कहे या नारा कि सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास। इस फार्मूले से शैलेंद्र प्रताप सिंह दो कदमआगे हैं। अपने राजनैतिक जीवन के सफर नामे में इस नारे को लेकर चल ही रहे हैं। साथ ही दो फार्मूला इनकी राजनीति में और चार चांद लगाता है, उनकी सरलता और सादगी। साथ ही मुख्यालय पर हमेशा की मौजूदगी। इसी पांच फार्मूले पर एमएलसी शैलेंद्र प्रताप सिंह अपनी राजनीति की शुरुआत की और आज भी उस पर कायम है। यही वजह है कि यहां के मतदाताओं ने एक दो बार नहीं बल्कि चार बार यूपी के विधान परिषद सदन में शैलेंद्र प्रताप सिंह को पहुंचाया है। आज जब फिर चुनाव का बिगुल बजा है, भाजपा ने सुल्तानपुर और अमेठी से विधान परिषद सदस्य का उम्मीदवार बनाया है। 24 वर्षों का मतदाताओं के प्रति शैलेंद्र प्रताप सिंह का जो समर्पण भाव है, उसी के बलबूते पर बहुत ही मजबूती के साथ चुनाव मैदान में डटे हैं। हौसला अफजाई विधान परिषद सदस्य के चुनाव में वोट डालने वाले मतदाता खुद ही कर रहे हैं। समूची पार्टी के साथ-साथ शुभचिंतक, समर्थक भी अपना चुनाव मानकर साथ में डटे हैं। निरंतर चुनाव प्रचार बढ़ता ही जा रहा है। विरोधी खेमे में चढ़ते चुनाव से खलबली मची हुई है। पर विरोधी खेमा शैलेंद्र प्रताप सिंह की कोई तोड़ नहीं निकाल पा रहा है। नतीजतन चुनावी बयार भाजपा के पक्ष में होती दिखाई पड़ रही है। हालांकि विपक्षी खेमा “माया”के बल पर चुनाव में “खेला” करने की जुगत में है। लेकिन भाजपा की तरफ से इतने “सियासी” घोड़े छोड़े गए हैं कि जो खलल डाल दिए हैं। बुद्धिजीवियों का मानना है कि यदि “माया” पर अंकुश लगाने में कामयाब हो गए तो निश्चित तौर पर चुनावी ऊंट की करवट भाजपा की तरफ हो सकती है।

 

विधान परिषद सदस्य चुनाव में भाजपा प्रत्याशी का चुनाव इस बार कुछ अलग किस्म का है। भाजपा प्रत्याशी शैलेंद्र प्रताप सिंह चुनाव तो कई लड़े, लेकिन इस बार के चुनाव में अधिकांश मतदाता खुद ही उनकी “चौखट” पर पहुंच रहे हैं। शैलेंद्र प्रताप सिंह के पक्ष में मतदान करने का पूरा भरोसा दे रहे हैं। प्रतिदिन नए नए वोटर निवर्तमान एमएलसी के आवास पर पहुंचकर हौसला बढ़ाने का काम कर रहे हैं। जिसमें हर जात धर्म के मतदाता शामिल हैं। जात धर्म से ऊपर उठकर मतदाता समर्थन की बात कर रहे हैं। सुल्तानपुर-अमेठी में निरंतर पार्टी समेत शुभचिंतक, समर्थक प्रधान, बीडीसी, सभासद की बैठक करा कर माहौल को शैलेंद्र प्रताप सिंह के पक्ष में करने में लगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button