मनोरंजन

सरोजिनी नायडू की बायोपिक में दीपिका चिखलिया की जगह लेंगी शांति प्रिया

महान स्वतंत्रता सेनानी और कवयित्री सरोजिनी नायडू की बायोपिक की चर्चा काफी समय से चल रही है। 2020 में जानकारी सामने आई थी कि फिल्म में रामायण की सीता दीपिका चिखलिया सरोजिनी का किरदार निभाएंगी। अब चिखलिया के फैंस को जानकर हैरानी होगी कि वह इस फिल्म से बाहर हो गई हैं। उन्हें सौगंध फेम अभिनेत्री शांति प्रिया ने रिप्लेस किया है। चिखलिया की जगह अभिनेत्री शांति लीड रोल निभाएंगी।
रिपोर्ट के मुताबिक, इस बायोपिक का शीर्षक सरोजिनी रखा गया है। शांति ने इंस्टाग्राम पर फिल्म से जुडऩे की जानकारी दी है। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा, सच कहूं तो मैं ज्यादा कुछ नहीं कह सकती। मेरे पास शब्द नहीं हैं, लेकिन मुझे एक ऐसी मजबूत और महत्वाकांक्षी महिला का किरदार निभाने का मौका मिला है, जिसने इस देश के निर्माण में योगदान दिया। उन्होंने बाधाओं को तोडऩे और सांस्कृतिक सोच को चुनौती देने में बड़ी भूमिका निभाई।
शांति ने आगे कहा, मैं हर संभव कोशिश करूंगी और हमारे भारतीय इतिहास में उस महिला की भूमिका के साथ न्याय करने में कोई कसर नहीं छोड़ूंगी, जिसे दुनिया गर्व से द नाइटिंगेल ऑफ इंडिया पुकारती है। सोशल मीडिया पर शांति को फैंस ने ढेर सारी बधाइयां भी दी हैं। एक फैंस ने अपने कमेंट में लिखा, बधाई हो मैम। मैं आपके लिए बहुत खुश हूं। जल्द ही आपको सिनेमाघरों में देखने का इंतजार रहेगा।
रिपोर्ट की मानें तो सरोजिनी के वृद्ध अवतार को शांति निभाएंगी। वहीं, युवा सरोजिनी की भूमिका के लिए कन्नड़ अभिनेत्री सोनल मोंटियरो को चुना गया है। सोनल को पंचतंत्र और  एमएलए जैसी कन्नड़ फिल्मों में देखा गया है। इस बायोपिक का निर्माण चरण सुवर्णा और हनी चौधरी द्वारा किया जाएगा, जबकि हेमंत गौड़ा इसे को-प्रोड्यूस करेंगे। यशोमती और धीरज मिश्रा ने फिल्म का लेखन किया है। विनय चंद्र फिल्म का निर्देशन करेंगे।
सूत्र के मुताबिक, पहले सरोजिनी सिर्फ हिन्दी में बन रही थी, इसलिए चिखलिया को फिल्म में लिया गया था। निर्माताओं ने शांति को चुना है, क्योंकि फिल्म अब चार भाषाओं हिन्दी, तमिल, कन्नड़ और तेलुगु में बन रही है। फिल्म की शूटिंग जल्द शुरू होगी। इसकी शूटिंग कुर्ग, वाराणसी और मुंबई में होगी। फिल्म में हितेन तेजवानी भी हैं, जिन्हें सरोजिनी के पति गोविंद के रूप में देखा जाएगा। अभिनेत्री जरीना वहाब उनकी मां वरदा सुंदरी देवी की भूमिका निभाएंगी।
सरोजिनी के जरिए शांति 28 साल बाद बड़े पर्दे पर वापसी करेंगी। इस अभिनेत्री को आखिरी बार फिल्म इक्के पे इक्का में देखा गया था। फिल्म 1994 में रिलीज हुई थी और इसमें उनकी जोड़ी अक्षय कुमार के साथ बनी थी।
1879 में हैदराबाद में जन्मी सरोजिनी ने एक कवयित्री, स्वतंत्रता सेनानी और भारत की पहली महिला गर्वनर के रूप में अपनी पहचान बनाई। वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष भी थीं। उनका नाम उन महिलाओं में शुमार किया जाता है, जिन्होंने देश को आजादी दिलाने में कड़ा संघर्ष किया था। वह बचपन से ही पढ़ाई-लिखाई में अव्वल थीं। केवल 12 वर्ष की उम्र से ही उन्होंने अखबारों में कविताएं और आर्टिकल्स लिखने शुरू कर दिए थे।
शांति ने 1987 में तमिल फिल्म से अपने अभिनय की शुरुआत की थी। अक्षय के साथ उनकी पहली हिन्दी फिल्म सौगंध थी। फिल्म में उनके अभिनय को लोगों ने खूब सराहा था। इसके बाद उन्होंने फूल और अंगार, वीरता और मेहरबान जैसी फिल्मों में काम किया है। हाल के दिनों में शांति इंस्टाग्राम पर सक्रिय दिखती है। इंस्टाग्राम पर वह अक्सर अपने फैंस से रूबरू होती रहती हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button