Sultanpur

आपरेशन कायाकल्प के अन्तर्गत होगा परिषदीय विद्यालयों का सुदृढ़ीकरण: डीएम

 

सुलतानपुर। जिलाधिकारी सी. इन्दुमती की अध्यक्षता में पं. राम नरेश त्रिपाठी सभागार में आपरेशन कायाकल्प से सम्बन्धित बैठक आयोजित हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि ग्राम पंचायतों द्वारा जनपद के परिषदीय विद्यालयों में कायाकल्प से सम्बन्धित वर्ष 2018-19 एवं 2019-20 में कराये गये कार्य एवं उस पर व्यय धनराशि का विवरण 02 दिन के अन्दर सम्बन्धित खण्ड शिक्षा अधिकारियों को उपलब्ध करायें और खण्ड शिक्षा अधिकारी प्रेरणा पोर्टल पर उसे उपलोड करायें। उन्होंने खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि विद्यालय प्रबन्ध समिति द्वारा तैयार विद्यालय विकास योजना जो खण्ड शिक्षा अधिकारियों के माध्यम से प्राप्त करायी गयी है उसे ग्राम पंचायत विकास योजना में सम्मिलित करायें और प्राथमिकता के आधार पर शुद्ध एवं सुरक्षित पेयजल, बालक शौंचालय, बालिका शौंचालय, शौंचालयों में जल-नल आपूर्ति, शौंचालयों का टाइलीकरण, दिव्यांग शुलभ शौंचालय, हैण्डवाशिंग यूनिट, कक्षा-कक्ष की फर्श का टाइलीकरण, रसोई घर का सुदृढ़ीकरण, दिव्यांग शुलभ रैम्प एवं रेलिंग, कक्षा-कक्ष में उपयुक्त वायरिंग एवं विद्युत उपकरण, परिषद में स्थित आंगनबाड़ी केन्द्रों में बाल शुलभ शौंचालय का निर्माण एवं विद्यालय के साथ-साथ विद्युत संयोजन का कार्य शीघ्र पूर्ण करायें। उन्होंने निर्देशित किया कि विद्यालय भवन की व्हाइट वाशिंग, पेन्टिंग तथा ब्लैक बोर्ड/व्हाइट बोर्ड का कार्य कम्पोजिट ग्रान्ट से प्रधानाध्यापक द्वारा किया जाना है।
जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि शौंचालय में 02 गड्ढे मानक के अनुसार बनाये जाय। जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि हैण्डवाश यूनिट की सुरक्षा सम्बन्धित चौकीदार, विद्यालय प्रबन्ध समिति, ग्राम प्रधान के माध्यम से सुनिश्चित की जाय। उन्होंने निर्देशित किया कि वर्ष 2017-18 में 132 विद्यालयों तथा वर्ष 2019-20 में 445 विद्यालयों में विद्युत संयोजन करने के लिए प्रति विद्यालय 6955 रूपये की दर से धनराशि उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन को प्राप्त करायी गयी थी, किन्तु विद्युत विभाग द्वारा कार्य पूर्ण किये जाने का प्रमाण पत्र अद्यतन शिक्षा विभाग को प्राप्त नहीं कराया गया है। अतः अधीक्षण अभियन्ता उत्तर प्रदेश पावर कार्पोंरेशन कार्य पूर्णतः की स्थिति से अवगत करायें। उन्होंने खण्ड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया कि उप जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित टीम द्वारा स्पोर्ट ग्रान्ट, लाइब्रेरी ग्रान्ट तथा वर्ष 2017-18 में कराये गये निर्माण कार्य का सत्यापन सुनिश्चित करायें।
जिलाधिकारी ने खण्ड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया कि भौतिक संसाधनों की उपलब्धता के साथ-साथ शैक्षिक गुंणवत्ता भी सुनिश्चित की जाय। शिक्षकों को इस बात के लिये प्रेरित करें कि ऑनलाइन कक्षाओं के माध्यम से बच्चों से लगातार सम्पर्क में रहें उन्हें किसी भी दशा में मुख्य धारा से वंचित न होने दें।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी रमेश प्रसाद मिश्र, जिला विकास अधिकारी डॉ0 डीआर विश्वकर्मा, बीएसए संतोष सक्सेना, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी पन्नालाल, जिला पंचायतराज अधिकारी, समस्त खण्ड विकास अधिकारी, समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारी, जिला समन्वयक सिविल आनन्द शुक्ला एवं समस्त सहायक विकास अधिकारी पंचायत उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button