उन्नाव

कोविड-19 से सम्बन्धित बनाई गयी टीम 11 की समीक्षा बैठक

 

उन्नाव (ब्यूरो रिपोर्ट)। जिलाधिकारी श्री रवीन्द्र कुुमार ने कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए सभी जनपद वासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित रखने एवं आर्थिक व्यवस्था को सुदृढ़ करने के संबंध में संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
जिलाधिकारी ने जनपद की आर्थिक व्यवस्था को सुदृढ़ बनाए जाने के उद्देश्य से संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि मनरेगा से संबंधित कार्य एवं निर्माण कार्यों को प्राथमिकता दी जाए और श्रमिकों को ज्यादा से ज्यादा काम मिल सके, आमजन की खरीदने की क्षमता बढ़े और आर्थिक व्यवस्था में सुधार आए। उन्होंने यह भी कहा कि जो प्रवासी श्रमिक जनपद में मौजूद हैं, उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में संबंधित अधिकारियों के द्वारा विशेष प्रयास करने की अत्यंत आवश्यकता है और उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने की पहल सभी अधिकारियों के द्वारा सुनिश्चित की जाए।जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आशुतोष कुमार को निर्देशित किया कि कोविड-19 के चलते अस्पतालों में इमरजेंसी सर्विस को पूरी क्षमता से चालू रखें, जिसके लिए उन्होंने कहा कोविड व नाॅन कोविड सभी अस्पताल अवश्य खोले जायें तथा अस्पतालों में साफ-सफाई, खाने-पीने व प्रतिदिन बिस्तर बदलवाने पर विशेष ध्यान दिया जाये। चिकित्सकीय इमरजेंसी सेवाओं पर विशेष ध्यान दें, जिससे हर जरूरतमंद को सही समय पर सही उपचार मिल सके। उन्होंने कोविड-19 वैश्विक महामारी को दृष्टिगत रखते हुए सभी जनपद वासियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित रखने के उद्देश्य से भी संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये और कहा कि जहाँ पर भी कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति मिल रहे हैं, उन्हें तत्काल प्रभाव से आइसोलेट किया जाए। उन्होंने नगर मजिस्ट्रेट श्री चन्दन पटेल से कहा कि गली की दुकान ऐप जनता से अधिक से अधिक डाउनलोड करवायें, इसके द्वारा खरीदारी पर जोर दें।बैठक में अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) श्री राकेश सिंह, नगर मजिस्ट्रेट श्री चन्दन पटेल, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी श्री राजदीप वर्मा, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button