Gorakhpurशिक्षासराहनीय कार्य

गुरुकुल संस्थान समूह ने 3 माह की फीस माफ की”

“गुरुकुल संस्थान समूह ने 3 माह की फीस माफ की”

गोरखपुर/कौड़ीराम(विनय तिवारी)। कोविद -19 जैसी आपदाकाल जो समस्त संसार के जनजीवन को प्रभावित करते हुए लगभग 3 महीने के लॉकडाउन में सबको घर मे रहने को मजबूर कर दिया, जिससे आमजन को विभिन्न संकटो का सामना करने पर मजबूर कर दिया है।
इस संकट की घड़ी में अनेक सक्षम और साधन संपन्न लोग एक दूसरे की मदद कर राष्ट्र और समाज के निर्माण में अपना योगदान दे रहे हैं। इसी क्रम में इस कछाराँचल की मिट्टी में शिक्षा एवं खेल का अलख जगाकर इसे अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने का कार्य अनवरत करते रहने वाले ‘गुरुकुल संस्थान समूह’ के संस्थापक/पूर्व प्रमुख अनिरुद्ध शाही एवं निदेशक डॉ बिपिन शाही ने इस संकट की घड़ी में अपने ग्रामीण कछारांचल क्षेत्रवासियों के लिए सबसे आगे बढ़कर अमूल्य योगदान की भावना का परिचय देते हुए “गुरुकुल द चिल्ड्रेन एकेडमी” के नर्सरी से लेकर कक्षा 8 तक के समस्त बच्चों का 3 माह (अप्रैल, मई,जून) का ट्यूशन शुल्क, वाहन शुल्क एवं अगली कक्षा का प्रवेश शुल्क* माफ कर इस अंचल के अभिभावकों को राहत प्रदान की ताकि इस पिछड़े क्षेत्र के किसी भी छात्र का शुल्क न होने के कारण शिक्षा बाधित न हो। इस निर्णय की सूचना विद्यालय की प्रधानाचार्या श्रीमती मीरा यादव ने दिया।
इस अतिपिछड़े साधनाविहीन क्षेत्र में दुर्गम उच्च शिक्षा की व्यवस्था और खेल के क्षेत्र में प्रतिभाओं को निखारकर अंतर्राष्ट्रीय फलक पर पहुचाने में गुरुकुल संस्थान समूह और निदेशक डॉ. बिपिन शाही पहले से ही लगातार प्रयासरत है। वर्तमान समय में भी इस संस्थान में अतिनिर्धन और प्रतिभावान खिलाड़ियों को निःशुल्क शिक्षा दी जाती है।अतः इस संकट की घड़ी में संस्थान के प्रबंधतंत्र का निर्णय प्रशसनीय एवं स्वागत योग्य हैं।
आपको बताते चलें कि इस समय संस्थान के सभी विभागों में नए प्रवेश प्रारंभ हो चुके हैं। इस सम्बंध में अधिक जानकारी के लिए विद्यालय के सम्पर्क नम्बर-9695020100 एवं 9838880555 पर समस्त जानकारी प्राप्त कर सकते है।विद्यालय प्रबंधन ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि संस्थान के इन छोटे से प्रयास से 500 से अधिक परिवारों को इस संकट की घड़ी में सीधे लाभ मिलेगा। ये निर्णय बच्चों की शिक्षा और उनकी मुस्कान बनाये रखने के लिए लिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button