Basti

बोर्ड की पाॅचवी बैठक सम्पन्न, बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए,पूर्व में पास नक्शों पर होगा पुनः विचार

 

बस्ती(रुबल कमलापुरी)। सू०वि०, बस्ती विकास प्राधिकरण बोर्ड की पाॅचवी बैठक मण्डलायुक्त अनिल कुमार सागर की अध्यक्षता में सम्पन्न हुयी। इसमें विभागीय अधिकारी तथा बोर्ड के नामित सदस्यगण उपस्थित रहें। बोर्ड की बैठक में वित्तीय वर्ष 2020-21 के आय-व्यय के प्रस्तावों को स्वीकृत किया गया। बैठक का संचालन प्राधिकरण के सचिव/ज्वाईंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीना ने किया। बोर्ड की बैठक में निर्णय लिया गया कि प्राधिकरण के गठन के बाद भी विनियमित क्षेत्र द्वारा स्वीकृत किए गये 1202 भवन के नक्शो की पुनः जाॅच करायी जायेंगी। इसमें नियम विरूद्ध पास किए गये नक्शों के विरूद्ध कार्यवाही की जायेंगी। मानचित्र स्वीकृत करते समय जिन सड़को/गलियों की चौड़ाई 09 मीटर से कम होगी इसके संबंध में निर्णय लिया गया है कि प्रकरण को शासन को संदर्भित कर मार्गदर्शन प्राप्त किया जायेंगा। मण्डलायुक्त ने निर्देश दिया है कि प्राधिकरण द्वारा चिन्हित 16 भूमि स्थलों में से सरकारी भूमि निःशुल्क प्राधिकरण को आवंटित करने हेतु शासन को प्रस्ताव भेजवाये। इस भूमि को महायोजना 2031 में भी शामिल किया जायेंगा। उन्होने निर्देश दिया कि इन 16 भू-खण्डों पर सतत दृष्टि रखी जाय ताकि अवैध निर्माण न होने पाये। बोर्ड की बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि यदि किसी व्यक्ति द्वारा विद्युत कनेक्शन का आवेदन किया जाता है तो विद्युत विभाग अनिवार्य रूप से प्राधिकरण से अनापत्ति प्रमाण पत्र लेगा। इसके लिए उपभोक्ता को भूमि या भवन का रजिस्टर्ड अभिलेख, विद्युत या टेलीफोन कनेक्शन का बिल या नगर पालिका द्वारा निर्धारित टैक्स की रसीद जमा करनी होगी।प्राधिकरण के उपाध्यक्ष जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने कहा कि प्राधिकरण का उद्देश्य जनसमुदाय को आवश्यक सुविधा पहुंचाना है। प्राधिकरण के सीमित संसाधनों को देखते हुए उन्होने लेागो से अपील किया है कि वे प्राधिकरण के द्वारा निर्धारित नियमों का पालन करें। सचिव प्रेम प्रकाश मीना ने बताया कि आईएल एण्ड एफएस फर्म द्वारा कुल 237 राजस्व गाॅव के सापेक्ष 215 गाॅव की डिजिटाईजेशन प्लान की साफ्ट कापी उपलब्ध करा दिया गया है। शेष गाॅव की साफ्ट कापी भी दो सप्ताह में प्राप्त हो जायेगी। बैठक में प्राधिकरण के नामित सदस्य एवं सभासद परमेश्वर शुक्ल, चुनमुन लाल, मो0 इद्रीश, प्रमोद कन्नौजिया तथा राज्य सरकार द्वारा नियुक्त सदस्य यशकान्त सिंह तथा प्रेम सागर तिवारी ने आवश्यक सुझाव दिये। इसमें मुख्य कोषाधिकारी श्रीनिवास त्रिपाठी, ईओ नगर पालिका अखिलेश त्रिपाठी, संयुक्त नियोजक हितेश कुमार, अतुल चौधरी एवं प्राधिकरण के अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button