HardoiUttar Pradesh

हरपालपुर पीएचसी के स्वास्थ्यकर्मियों पर शिक्षकों से अभद्रता का आरोप

हरदोई ( अनुराग गुप्ता )  ।  जिले के भरखनी ब्लाक में एक शिक्षक के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद विकास खंड के सभी शिक्षकों की कोरोना जांच के निर्देश दिए गए थे।  इसको लेकर खंड शिक्षा अधिकारी सुची गुप्ता के द्वारा अध्यापकों की सूची जारी की गई। पहली सूची के अध्यापकों को हरपालपुर और दूसरी सूची के अध्यापकों को पीएचसी आलमनगर भेजा गया।
आपको बता दें कि  विकासखंड भरखनी के ग्राम मुड़रामऊ में के उच्च प्राथमिक विद्यालय में तैनात एक शिक्षक कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। यह शिक्षक दो दिन पहले वेतन डाटा फीड कराने पाली आया था । जहां सौ से डेढ़ सौ अन्य अध्यापकों ने भी वेतन डाटा फीड कराया था । शिक्षक के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद खंड शिक्षा अधिकारी सुची गुप्ता ने विकासखंड के सभी शिक्षकों की कोरोना जांच कराए जाने के निर्देश दिए थे । खंड शिक्षा अधिकारी के द्वारा शिक्षकों की दो सूची जारी की गई।  पहली सूची में 25 अध्यापक रखे गए, जिन्हें पीएचसी हरपालपुर में जांच कराने के लिए भेजा गया।  वहीं दूसरी सूची में 43 अध्यापक रखे गए इन्हें पीएचसी आलमनगर भेजा गया।  हरपालपुर जांच कराने गए शिक्षकों का आरोप है कि सुबह 10 बजे से 2 बजे तक शिक्षक वहां जांच के इंतजार में बैठे रहे, लेकिन पीएचसी हरपालपुर में जांच किट ही नहीं थी । इसके अलावा शिक्षकों ने हरपालपुर पीएचसी के कर्मचारियों द्वारा आपत्तिजनक व्यवहार करने का आरोप भी लगाया । शिक्षकों ने स्वास्थ्य कर्मियों की प्रभारी चिकित्सक से शिकायत भी की , लेकिन शिक्षकों को कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। जूनियर शिक्षक संघ भरखनी ने स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा शिक्षकों के साथ किए गए अभद्र व्यवहार की घोर निंदा की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button