Uttar Pradesh

विजय रथ यात्रा से प्रदेश में फिर आएगा परिवर्तन : अखिलेश

लखनऊ(निर्वाण टाइम्स)।सपा मुखिया अखिलेश यादव ने विधानसभा चुनाव 2022 के लिए चुनावी बिगूल कानपुर से फूंक दिया। जाजमऊ गंगा पुल से अखिलेश यादव ने विजय रथ यात्रा की मंगलवार की दोपहर शुरुआत कर दी। नोटबंदी के समय कानपुर देहात के झींझक में जन्मे खंजाची नाथ ने विजय रथ यात्रा को पार्टी का झंडा दिखाकर रवाना कराया। सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने रथ पर सवार होने के बाद हाथ हिलाते हुए सभी का अभिनंदन किया तो कार्यकर्ताओं ने जोरदार नारेबाजी की।उन्होंने कहा कि प्रदेश में जब-जब सपा की विजय यात्रा निकली है, तब-तब प्रदेश में परिवर्तन आया है। कहा, रथयात्रा के माध्यम से किसानों, बुजुर्गों का आशीर्वाद लेंगे। उन्होंने कहा कि लखीमपुर में किसानों के साथ कानून को भी कुचला गया है। उनका प्रतिनिधिमंडल लखीमपुर पीड़ित परिवारों से मिलने गया है। उन्होंने कहा कि कानपुर यूपी का औद्योगिक शहर है, यहां पर सरकार ने उद्योगों को ठप कर दिया है। इसलिए यात्रा की शुरुआत कानपुर से की गई है।

उद्योग नगरी कानपुर से विजय रथयात्रा की शुरुआत करने के लिए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव मंगलवार दोपहर जाजमऊ गंगा पुल सीमा पर पहुंचे तो सपाइयों ने नारेबाजी करके स्वागत किया। कार्यकर्ताओं में सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष की एक झलक पाने की होड़ लगी रही। उनका काफिला लखनऊ से उन्नाव से होकर कानपुर जाजमऊ पुल पर पहुंचा तो मिलने के लिए सपाइयों में धक्कामुक्की शुरू हो गई। वहीं हाईवे पर भी जाम की स्थिति बन गई लेकिन पुलिस ने एक लेन से दोनों छोर के वाहनों को निकालना शुरू कराया है। सपा कार्यकर्ता विजय रथ के साथ सेल्फी लेते रहे। रथयात्रा लेकर अखिलेश घाटमपुर होते हुए बुंदेलखंड के जनपदों में भ्रमण करेंगे और जनता के बीच अपनी उपलब्धियों के साथ भाजपा सरकार की खामियां बताएंगे। देर शाम से जाजमऊ गंगा तट पर रथयात्रा की तैयारियों को पूरा कर लिया गया था।विजय यात्रा को लेकर जाजमऊ गंगा पुल पर भारी संख्या में कार्यकर्ताओं की भीड़ एकत्र है। कानपुर-लखनऊ हाईवे पर जाम के कारण यातायात रेंग रहा है। पुलिसकर्मी वाहनों को एक-एक लेन से गुजारकर यातायात सुचारु करने की कोशिश कर रहे हैं। कार्यकर्ता अखिलेश के स्वागत के लिए ढोल और पार्टी के झंडे लेकर भीड़ लगाए रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button