Uttar Pradesh

मनीष हॉस्पिटल में संदिग्ध हालत में इलाज के दौरान किशोरी की मौत, काटा हंगामा

निर्वाण टाइम्स
सिधौली सीतापुर(संतोष दीक्षित)। कस्बे के मनीष हॉस्पिटल में बीती रात किशोरी की संदिग्ध हालत में इलाज के दौरान मौत हो गयी पुलिस के पहुचने के बावजूद परिजनों ने किशोरी के शव को पूरी रात अस्पताल से नही उठाया और हंगामा किया और चिकित्सक द्वारा गलत दवा दिए जाने का आरोप लगाया पुलिस ने सभी को समझा बुझा कर शांत किया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा
बुधवार की देर रात सिधौली कस्बा स्थित मनीष हॉस्पिटल में एक 14 वर्षीय किशोरी मीनाक्षी मौर्य पुत्री सुभाष मौर्य की इलाज के दौरान मौत हो गई थी पिता सुभाष का कहना था कि दोपहर में उसको उल्टी की शिकायत हुई थी जिसको लेकर वह मनीष अस्पताल में दवा लेने आई थी डॉक्टरों द्वारा उसे एक ग्लूकोस की बोतल अस्पताल में ही लगाई गई और जिसमें बिगो लगा कर के कुछ इंजेक्शन दिए गए उसके तुरंत बाद मीनाक्षी की मौत हो गई रात में ही परिजनों ने गलत दवा दिए जाने का आरोप लगाया था सूचना पर सिधौली कोतवाली पुलिस भी पहुंची थी और कार्रवाई शुरू की थी लेकिन परिजन मृतक के शव को सुबह तक थाने नहीं ले गए और न ही अस्पताल से शव को बाहर निकाला पुलिस ने भी शव को कब्जे में नहीं लिया था गुरुवार को मृतका मीनाक्षी के परिजनों ने सुबह फिर से हंगामा कर दिया अस्पताल परिसर में ही दूसरी मंजिल पर बने अस्पताल के संचालक व वरिष्ठ चिकित्सक डॉक्टर कमल कुमार जैन के आवास पर जबरदस्ती घुसने का प्रयास भी किया आरोप यह था कि मृतका को दिए जाने वाला पर्चा डॉ कमल कुमार जैन के कब्जे में था जिसे पर वह लोग छेड़छाड़ कर सकते थे क्योकि मृतका का इलाज करने वाले डॉक्टर अस्पताल संचालक के पुत्र डॉ मनीष जैन थे
सूचना पर पहुंचे सिधौली कोतवाली प्रभारी आलोक मणि त्रिपाठी उप निरीक्षक सोमवीर सिंह कस्बा इंचार्ज एमपी सिंह सहित भारी संख्या में पुलिस बल पहुंचा और महिलाओं पुरुषों को समझा-बुझाकर शांत करवाया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की कार्रवाई शुरू की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button