Lakhimpur-khiri

नवागत चौकी प्रभारी ने क्षेत्रीय सम्मानित लोगों के साथ की बैठक

चौकी प्रभारी पढ़ुआ गजेन्द्र सिंह ने बैठक में लोगों की समस्याओं को जाना!

आपराधिक गतिविधियो पर अंकुश लगाना और चोरी की वारदातो पर विशेष लगाम कसना मेरी पहली प्राथमिकता मिडिया और ग्रामजनो का सहयोग अपेक्षित : गजेन्द्र सिंह (नवागत चौकी प्रभारी)

 

निघासन-खीरी(एस.पी.तिवारी/चमन सिंह राणा) निघासन कोतवाली क्षेत्र की पढ़ुआ चौकी के नए इंचार्ज के तौर पर उपनिरीक्षक गजेन्द्र सिंह ने अपना पदभार संभाल लिया।यहां के चौकी इंचार्ज का स्थानान्तरण हो गया था।
पढ़ुआ पुलिस चौकी के प्रागंण में क्षेत्र के सम्मानित बुध्दजीवो क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों समेत व्यवसायियों की बैठक कर एक दूसरे से रुबरु होते हुए क्षेत्र के जनसमस्याओं के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त किया।
नवागन्तुक प्रभारी पढ़ुआ गजेन्द्र सिंह ने कहा जनता की सुरक्षा के लिए पुलिस सदैव तत्पर रहेगी लेकिन वहां पर आम नागरिकों का सहयोग भी जरूरी है।दोनों के सहयोग से कानून ब्यवस्था बनी रहेगी और अपराधियों की जगह सलाखो के पीछे होगी।
चौकी इंचार्ज का पदभार संभालने के बाद उपनिरीक्षक गजेन्द्र सिंह ने बातचीत के दौरान कहा कि इलाके में अमन शांति बहाल रखना हमारी प्राथमिकता होगी किसी भी व्यक्ति को कानून का उल्लंघन करने की इजाजत नहीं दी जाएगी।साथ ही अगर कोई अराजक तत्व दिखाई दिए तो उन पर कड़ी निगरानी रखी जाएगी।
तेज गति से फर्राटे भरने वाले लोगो,सड़क पर बेतरतीब ढंग से वाहन खड़ा करने वाले लोगों व सावर्जनिक स्थल पर नशाखोरी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई संबंधी नागरिकों की मांग पर कड़ी कार्यवाही का आश्वासन चौकी प्रभारी गजेन्द्र सिंह ने दिया है। वहीं उपस्थित जनों से सहयोग प्रदान करने की अपील करते हुए ग्राम के प्रतिष्ठानों में सीसीटीवी कैमरा लगाने व पहरेदार नियुक्त करने की भी अपील की है ।
बैठक में उपस्थित जनों द्वारा चौकी क्षेत्र में बढती हुई घटनाओं पर चिंता व्यक्त की गई जिस पर पढ़ुआ चौकी प्रभारी ने इसे चुनौती मानकर शीघ्र ही घटनाओं पर अंकुश लगाने की बात कही है ।
चौकी इंचार्ज पढ़ुआ गजेन्द्र सिंह ने कहा कि नशे के कारोबारियों पर नकेल कसने के लिए उनकी ओर से क्षेत्र में विशेष मुहिम चलाई जाएगी।अगर किसी भी जगह पर कोई अप्रिय घटना घटित होती है तो वे इस संबंध में तुरंत पुलिस को सूचित करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button