Sultanpur

दशकों बाद शिक्षको में देखने को मिल रहा है उल्लास

सुल्तानपुर(ब्यूरो)19 सितम्बर को होने वाले उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ कुड़वार ब्लॉक इकाई की त्रैवार्षिक निर्वाचन व अधिवेशन एव शिक्षक सम्मान समारोह की एक हंगामी तैयारी बैठक अमहट स्थित पार्क में हुई।बैठक प्राथमिक शिक्षक संघ कुड़वार ब्लॉक अध्यक्ष निज़ाम खान की अध्यक्षता में हुई।बैठक में संरक्षक सुहेल सिद्दीकी ने सभी शिक्षको से आह्वान किया कि 19 सितम्बर को होने वाले चुनाव में शिक्षक-शिक्षिकाओं का महापर्व है संघ के सदस्य होना उसके महत्व को समझना है तो अधिवेशन में सम्मिलित होने के पश्चात ही समझ सकते है क्योकि हमारे साथ क्या हो रहा है और भविष्य में क्या होने की उम्मीद है यह सब बाते स्कूल और घर मे नही ज्ञात होगा।इसके लिए संघ की बैठकों और अधिवेशनों में सबको आना चाहिए।अपने अधिकारों के महत्व और उसकी उपलब्धि संघ के प्रासंगिक होने साक्ष्य मिल सकता है। वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्याम सुंदर यादव ने कहा कि प्राथमिक शिक्षक संघ कालजई संघ है शिक्षको के हितों के लिए हमेशा सन्घर्ष करता रहता है।उपाध्यक्ष रूप नारायण बौद्घ ने शिक्षको से अपील किया कि शिक्षक इधर उधर के चक्कर मे न पड़े  शिक्षक हितैषी संघ में भागेदारी करे और मजबूत करें तभी शिक्षको का भला होगा।उपाध्यक्ष सिकन्दर वर्मा ने कहा कि यदि संघ न होता तो आज हम सबको को प्रेरणा एप डाउनलोड कर उपस्थिति की सेल्फी से देनी पड़ती प्रतिदिन हजारों लोगों का वेतन कटता लोग आत्महत्या तक कर ने पर विवश होते।भारत यादव और राज बहादुर यादव ने कहा कि अभी तक हम भटके थे लेकिन कोरोना काल मे जिस प्रकार से संघ ने शिक्षको के लिये सन्घर्ष कर शिक्षको का सम्मान सुरक्षित रखने का कार्य किया इस लिए हम भी अपने परिवार के साथ है लोगो से भी यही अपील है आप गुमराह न हो।19 को अपने शिक्षको की मर्यादा औए गरिमा के अस्तित्व के लिये चुनाव में भाग ले। उपाध्यक्ष लईक अहमद ने कहा कि हमारा नेतृत्व कर्ता अध्यक्ष निज़ाम खान की जैसा कोई नही है। निज़ाम खान नैसर्गिक नेता शिक्षा विभाग के अतिरिक्त अन्य विभागों के काम भी करने के लिए जूझते है यहाँ तक कि अपना खून तक देते है ऐसे अध्यक्ष को कौन खोएगा।विनय पाण्डेय ने  शिक्षको के विभिन्न समस्याओं का मुद्दा उठाया कहा कि यथा सत्यापन,अवशिष्ट वेतन भुगतान इत्यादि समस्याओं समाधान अधिकारियों से मिलकर शीघ्र करना चाहिये।मंत्री बृजेश मिश्र ने कहा कि जनपद सुल्तानपुर की ब्लॉक इकाई कादीपुर और दोस्तपुर में अध्यक्ष और मंत्री पद हेतु चुनाव हुआ जिसमें 90%से 95% शिक्षक सदस्यों ने बढ़चढ़कर मतदान किया घण्टों कतारें लगी रहीं , जयसिंहपुर और अखण्डनगर में निर्विरोध निर्वाचन हुआ उसमें भी सदस्य शिक्षक भारी संख्या में लगभग 95% उपस्थित रहे आने वाली तिथियों में जिन ब्लॉकों में चुनाव होना है सरगर्मी बढ़ गई है प्रत्याशी मतदाताओं से मतदान हेतु अनुरोध कर रहे हैं।अध्यक्षता कर रहे कुड़वार अध्यक्ष निज़ाम खान ने शिक्षक संघ की उपलब्धि हानि -लाभ  और महत्व तथा प्रासंगिकता पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डाला एक दशक पीछे जायें जब उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ का अधिवेशन कार्यक्रम तिथि घोषित होता था तो शासन से बकायदा सदस्य शिक्षकों के लिए अवकाश घोषित करने के निर्देश जारी होते थे।किन्तु महत्वाकांक्षी पद लोलुपता के पर्याय  लोगो ने दलाली कर भ्रष्टाचार का ऐसा जाल बिछाया कि दिखता है संघ में विभेद हो गया और कई लोग अवैध तरीके से गुटबाजी करके संघ का संचालन शुरू कर दिया है, शासन में बैठे उच्च अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों ने इस विघटन का भरपूर लाभ उठाया और चुनाव विद्यालय समय के बाद कराने पड़ते हैं ।जिन शिक्षकों के सम्मान, उनके हर मांग के लिए शिक्षक संघ की आंदोलन की सुगबुगाहट से सरकारें थर्रा जाया करती थी अपनी मांगों को मनवा लेते थे शिक्षक बन्धु।करीब एक दशक से शिक्षकों का इतना बड़ा नुकसान हो रहा है कि शिक्षकों के तथाकथित गिरोह से जुड़े शिक्षक अपने व्यक्तिगत स्वार्थ सिद्ध करने में अपने भविष्य को ही अंधकार मय बना दिया।इसी विघटन का लाभ उठाकर सरकार दमन का रुख अख्तियार कर लिया।पुरानी पेंशन बन्द कर दिया,17140-18150 वेतनमान बन्द कर दिया।प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों का संविलियन कर के लाखों पद खत्म कर दिए।पदोन्नति अवरुद्ध कर दी गयी।विभिन्न ऐप लोड कराकर दिन रात काम करने की मशीन शिक्षकों को बना दिया।ऑनलाइन अवकाश के चक्कर मे लोगो की जरूरत पर आकस्मिक अवकाश लेने में असुविधा ऐसे तमाम कठिनाई और समस्यात्मक पहलुओं से मानसिक रूप से तनाव बढ़ना स्वाभाविक है।निजता का हनन होने से शिक्षको को लगा कि संघ कमजोर होने के बाद ही यह परेशानियां उत्पन्न हो रही है ऐसी दशा में अपने मूल संघ उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जिसके प्रांतीय अध्यक्ष डॉ दिनेश चंद्र शर्मा महामंत्री संजय सिंह है उन्होंने कोरोना काल में भी शिक्षकहित में सन्घर्ष को देख कर शिक्षकों में उम्मीद की किरण नजर आयी है जिस तरह से कोरोना काल मे पंचायत चुनाव के दौरान चुनाव कार्मिकों की मृत्यु  हुई सरकार ने केवल तीन कार्मिक को मृतक घोषित किया था उस समय कोरोना महामारी के चलते धरना प्रदर्शन आंदोलन पर प्रतिबन्ध लगा हुआ था इस विषम परिस्थिति में संघ ने जिस चतुराई और बुद्धिमता से ट्विटर अभियान चलाया की देश विदेश से आवाज उठने लगी कि सरकारी शिक्षकों कर्मचारियों के साथ सरकार अन्याय कर रही है।तब सरकार को लगभग 2200 कार्मिकों को मृतक घोषित करना पड़ा जिनके मुआबजा 30 लाख निश्चित हुआ।इसी तरह स्कूल पहुच कर पूरे स्टाफ को सेल्फी से उपस्थिति विद्यालय बन्द के समय समस्त स्टाफ की सेल्फी देने का निजता का हनन वाले नियम लगाने के लिए प्रेरणा एप डाउनलोड करने को विवश कर रहे शासन के अधिकारियों से संघ ने शिक्षक दिवस की न मनाने का निर्णय लिया उस पूरे प्रदेश में शिक्षक सम्मान बचाओ अभियान की शुरुआत हुई सरकार सेल्फी देने वाली नीति को वापस लेना पड़ा संघ ने शासन से 21बिंदुओं की भारी भरकम स्कूलों के कायाकल्प हेतु मांग सामने रख दी उसी का नतीजा है जब 5000 हजार से 10000 रँगाई पुताई मरम्मत के लिए धन मिलता था अब 25000 से लाखों रुपये स्कूलो के लिए आ रहे अनेकों संशाधन मुहैय्या किया जा रहा संघ अभी स्कूलों में अनुचर और क्लर्क की नियुक्ति बाकी है उस पर भी विचार हो रहा है यह है मजबूत संघ फौलादी इरादे वाला संघ जिसके लिए ठान लिए पीछे नही हटा। उक्त घटनाक्रम और दृढ़ता, प्रखरता के दृष्टिगत शिक्षकों में विश्वास बहाल हुआ उसी का परिणाम है कि अपना अस्तित्व बचाना है तो एशिया का सबसे बड़ा संघ उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ है इसी में लौटना भलाई है।इस निर्वाचन में शिक्षको के महापर्व त्रैवार्षिक निर्वाचन व अधिवेशन के अवसर पर शिक्षको में जोश उमंग दिखाई दे रहा है इससे लग रहा संघ सशक्त हो रहा है ।
विनय पाण्डेय और, रमन तिवरी ने कहा कि संघ के अतिरिक्त जो लोग भी शिक्षको हितैषी होने का दम्भ भरते है मिथ्या है।यदि ब्लॉक से दलाली प्रथा का पतन देखना चाहते है तो संघ में आस्था और निष्ठा के साथ जुड़े।भ्र्ष्टाचार के विरुद्ध सहयोग प्रदान करें।कोषाध्यक्ष मुहम्मद  मुज्तबा अंसारी ने अपना आय व्यय का विवरण सदन के समक्ष प्रस्तुत किया।आदर्श शिक्षामित्र वेलफेयर एसोसिएशन के ब्लॉक अध्यक्ष व जिला मंत्री प्रदीप यादव और मृदुल तिवारी ने सन्गठन में युवाओं की प्रतिभागिता बढ़ाई जाये।मंत्री बृजेश मिश्रा, उपाध्यक्ष लईक अहमद, संगठन मंत्री राजेश मिश्रा, राजमणि यादव ,मुजफ्फर कलीम ,फ़ैज़ उल्लाह अंसारी,भारत यादव, राज बहादुर यादव,मशहूर आलम,आसिफ रजा,नरेंद्र प्रताप वर्मा,रमन तिवारी, विनय पाण्डेय  मनोज श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button