Sultanpur

पार्टी हाईकमान के तय पैमाने पर खरे उतरें इसौली के “लाल”

राष्ट्रीय अध्यक्ष के कार्यक्रम में खींच दी "ताकत" की लंबी रेखा

इसौली से भीड़ ले जाने में अव्वल साबित हुए बीएम यादव

बीएम के काफिले को देखती रह गई जनता

सुल्तानपुर(विनोद पाठक) इसौली विधानसभा क्षेत्र में समाजवादी पार्टी से टिकट मांगने की लंबी फेहरिस्त है। हर दावेदार क्षेत्र में अपनी मजबूती का दावा करता है, लेकिन एक प्रबल दावेदार ऐसे हैं कि वह हवा में नहीं, जमीनी हकीकत की बात करते हैं। क्षेत्र में मजबूती का पैमाना किसी भी नेता का भीड़ करती है। उस पैमाने पर केवल राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के कार्यक्रम में इसौली के “लाल” बीएम यादव ही खरे उतरें। बीएम यादव का काफिला डीजे की धुन पर सैकड़ों गाड़ियों के साथ जिधर से भी गुजरा, उनकी मजबूती की “दाद” जनता देती रही। माहौल बनाने में और कार्यक्रम स्थल तक भीड़ ले जाने में केवल बीएम यादव ही “अव्वल” साबित हुए। हालांकि अन्य दावेदारों ने भी अपने सामर्थ्य के मुताबिक कोई चूक नहीं की।
गौरतलब हो कि 17 नवंबर को सदर जयसिंहपुर के अरवल कीरी करवत गांव में उसी स्थान पर समाजवादी पार्टी के नेताओं का तंबू और बंबू गडा, जहां पर एक दिन पहले 16 नवंबर को देश के पीएम आए हुए थे। इसी स्थान से सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को भाजपा के “जुमलेबाजी” का जवाब देना था। राष्ट्रीय अध्यक्ष गाजीपुर से रथ पर सवार होकर अरवल कीरी स्थान पर आना था। जिले के नेताओं ने कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए कोई चूक नहीं की। लेकिन इसौली विधानसभा क्षेत्र के वरिष्ठ सपा नेता इसौली के “लाल” बीएम यादव ने जो शक्ति प्रदर्शन किया, जनता “दांतो तले उंगली” दबाई। जिधर से भी बीएम यादव का काफिला निकला, सपा की मजबूती में चार चांद लगता चला गया। हुआ यूं ही इसौली विधानसभा क्षेत्र से करीब 700 गाड़ियों के काफिले के साथ बीएम यादव सपा के कार्यकर्ताओं को लेकर निकले। कार्यक्रम में चार चांद लगे, इसके लिए बीएम यादव ने कई डीजे बुक कर रखे थे। डीजे की धुन पर कार्यकर्ता तो थिरक ही रहे थे, बावजूद इसके काफिले को सड़क के किनारे खड़ी जनता “ताकती” रह गई। वाह बीएम भाई वाह के शब्दों से बीएम यादव “नेवाजे” भी गए। टिकट मांगने वालों की क्षेत्र में लंबी फेहरिस्त। दर्जनों नेता अपने टिकट को पक्का मान रहे हैं। लेकिन जब राष्ट्रीय अध्यक्ष के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए “ताकत” लगाने की बात आई तो उसमें बीएम यादव ने सबको “पछाड़” दिया। बीएम यादव के द्वारा की गई व्यवस्था से कार्यक्रम में चार चांद तो लगा और बीएम यादव इसौली विधानसभा क्षेत्र में अव्वल साबित करने की बात नहीं की बल्कि “अव्वल” साबित हुए। दिल खोलकर बीएम यादव ने पार्टी की मजबूती के लिए वह हर कवायद की, जिससे पार्टी को मजबूती मिले। वरिष्ठ सपा नेता बीएम यादव के वाहन और भीड़ के साथ चल रहे कई डीजे का काफिला पूरे जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है।

 

पार्टी के टारगेट पर, बीएम यादव टॉप
सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए पार्टी हाईकमान ने टिकट के आवेदकों के लिए जो पैमाना तय किया था, उसको पूरा करने में इसौली के वरिष्ठ नेता बीएम यादव टॉप पर रहे। कार्यक्रम की समीक्षा करने आए एमएलसी सुनील साजन और आनंद भदौरिया ने हर आवेदक को दो-दो हजार भीड़ का टारगेट निर्धारित किया था, लेकिन उस पर खरा उतरने वाले केवल बीएम यादव ही निकले। बीएम यादव ने यह साबित कर दिया कि इसौली विधानसभा क्षेत्र में उनकी मजबूत पकड़ है। पार्टी की मजबूती के लिए सब कुछ न्योछावर कर सकते हैं और वह करके दिखा भी दिया है। बीएम यादव ने ऐसी दरियादिली दिखाई है कि कार्यकर्ता फूले नहीं समा रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button