TV

बिग बॉस से बाहर हुई अर्चना गौतम , आखिर कौन है अर्चना गौतम, किस पार्टी से लड़ा चुनाव

मुम्बई।रिएलिटी शो ‘बिग बॉस’ में एक शॉकिंग एविक्शन देखने को मिला है. बीती रात हिंसा के चलते बिग बॉस ने कंटेस्टेंट अर्चना गौतम (Archana Gautam ) को घर से बेघर कर दिया है. शो ऐसे कई कंटेस्टेंट्स रह चुके हैं, जो गेम में बाहर या फिर जनता की वोटिंग की वजह से नहीं, बल्कि वॉयलेंस की वजह से बेघर हुए हैं. इस लिस्ट में ‘बिग बॉस 16’ की मजबूत कंटेस्टेंट अर्चना गौतम भी शामिल हो गई हैं. खबर आ रही है कि, बिग बॉस के घर में हाथापाई करने के चलते अर्चना गौतम को शो से बाहर कर दिया गया है.

 

कौन है अर्चना गौतम

जिले की हस्तिनापुर (सुरक्षित) सीट से कांग्रेस के टिकट पर लड़ीं माडल और अभिनेत्री अर्चना गौतम को बुरी तरह हार का मुंह देखना पड़ा था। उनकी जमानत भी नहीं बची। हार के बाद अर्चना का एक वीडियो वायरल हुआ था। इसमें उन्‍होंने गुंडी बनने का एलान किया था, जिससे लोगों के काम करा सकें। तमाम नेताओं और गैर कांग्रेसी दलों पर निशाना साधते हुए कई विवादित बातें भी कही हैं.।हस्तिनापुर सहित मेरठ जिले की सातों विधानसभा सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशी जमानत तक नहीं बचा सकी थी। हस्तिनापुर सीट को लेकर कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा काफी गंभीर थीं। अर्चना गौतम को टिकट मिलने पर हुई आलोचना का उन्‍होंने खुद जवाब भी दिया था। प्रियंका वाड्रा व राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने हस्तिनापुर के मवाना क्षेत्र में रोड शो किया था। छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल भी प्रचार को पहुंचे थे। इस सबसे बाद भी अर्चना गौतम कुल 1519 वोट प्राप्त कर सकी थी।

फेसबुक लाइव के बताए जा रहे वायरल वीडियो में अर्चना गौतम कह रही थीं कि उन्‍हें प्रचार के लिए बहुत कम समय मिला। इसके बाद भी उन्‍होंने अपनी ओर से भरपूर प्रयास किया। भाजपा उम्‍मीदवार लहर में जीते हैं। कुछ लोगों के हार के बाद क्षेत्र से न जाने की बात पर कहा कि वह यहीं रहेंगी, कहीं नहीं जाएंगी। उनका घर भी मेरठ शहर के गंगानगर में है। कहा कि प्रचार के दौरान लोग कहते थे कि यह लड़की कैसे काम करेगी। दारोगा आदि से कैसे काम कराएगी। इस पर अर्चना ने कहा कि ऐसा करने के लिए वह गुंडी बनेंगी। तमाम नेता भी गुंडों की तरह काम करते हैं।

अर्चना गौतम ने कहा कि मुसलमानों ने सपा को वोट दिया, लेकिन सपा की सरकार नहीं बनी। मुसलमानों, दलितों और किसानों को क्षेत्रीय दलों को छोड़कर राष्ट्रीय पार्टी कांग्रेस के साथ आना चाहिए। कांग्रेस सदा दलितों के बारे सोचती रही है। दलितों को पटटे भी कांग्रेस के जमाने में दिए गए।

“कट्टे का मोह छोड़ दें”

अर्चना गौतम ने वायरल वीडियो में कहा कि गरीब और शोषित वर्ग फ्री के अनाज के कट्टे का मोह छोड़कर अपने बच्‍चों के भविष्‍य की चिंता करें और 2024 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा के हाथ मजबूत करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button