Sultanpur

पीड़ित परिजन को इसौली के ‘लाल’ ने सौंपा एक लाख रुपए का चेक

इसौली विधानसभा क्षेत्र में कुछ दिन पहले हुई थी निषाद युवक की हत्या

सपा नेता बीएम यादव ने पीड़ित परिवार के साथ

कुड़वार,सुलतानपुर(विनोद पाठक)। मिठनेपुर गांव में निषाद की हुई हत्या के मामले में इसौली के ‘लाल’ बीएम यादव पीड़ित परिवार की मदद के लिए आगे आए। आश्वासन की घुट्टी नहीं पिलाई, बल्कि धरातल पर मदद करने का काम किया। अपने निजी संसाधनों से पीड़ित परिवार को सपा नेता बीएम यादव ने एक लाख रुपए का चेक सौंपा। कहा कि पीड़ित परिवार बहुत ही गरीब है। परिवार के सुख दुख में हमेशा खड़ा रहूंगा और हर संभव मदद पहुंचाने का काम करूंगा।
गौरतलब हो कि कुड़वार थाना क्षेत्र के मिठनेपुर निवासी युवक पुन्वासी पुत्र रामधनी निषाद का शव मंगलवार को क्षेत्र के नीरसहिया गांव के निकट गोमती नदी में पाया गया था। आरोप था कि रविवार को गांव निवासी पंकज सिंह पुन्वासी को मछली मारने के बहाने लेकर गया था। मां गंगापती ने पंकज के खिलाफ अपहरण कर हत्या का मुकदमा सोमवार को थाने पर दर्ज कराया था। बुधवार को जब पोस्टमार्टम के बाद मृतक का शव गांव पहुंचा तो गांव के ही नामजद आरोपी पंकज सिंह के घर के सामने शव रखकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। भीड़ का मनोबल इतना ऊँचा था कि घर के सामने ही दफनाने के लिए गड्ढा भी खोदना शुरू कर दिया गया लेकिन पुलिस ने किसी तरह से समझाबुझा कर गड्ढा खोदने से मना किया।गुरुवार को उपजिलाधिकारी सदर रामजी लाल व क्षेत्राधिकारी नगर राघवेन्द्र चतुर्वेदी,निषाद नेता राम प्यारे निषाद गांव पहुंचकर मृतक के पिता व भीड़ को समझाने की कोशिश की लेकिन हत्या के मुकदमें के नीचे भीड़ कुछ सुनने को तैयार नहीं थी। जबकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण पानी में डूबने से हुई है।अन्त में जब बात नहीं बनी तो पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज किया।उसके बाद मृतक का अन्तिम संस्कार किया गया। ऐसी प्रकरण मे इसौली के चर्चित नेता इस इसौली के ‘लाल’ मिठनेपुर गांव पहुंचे। पीड़ित परिजनों से मुलाकात की।पीड़ित परिजनों की गरीबी को देखते हुए बीएम यादव ने अपने निजी संसाधनों से एक लाख रुपए का चेक पीड़ित परिजन को सौंपा। फिलहाल अभी तक जिले में कोई भी सपा का नेता इस तरीके से पीड़ित परिवार की मदद नहीं की है। सपा नेता बीएम यादव द्वारा पीड़ित परिजन को जब एक लाख रुपए का चेक सौंपा तो बीएम यादव का उत्साह वर्धन क्षेत्रीय जनता समेत पार्टी के नेता कर रहे हैं। काश! बीएम यादव की तरह और भी नेता आगे आए और पीड़ित परिजनों के आंसू पहुंचे तो निश्चित तौर पर समाज में नेताओं के प्रति अच्छी सोच जागृत होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button