Connect with us

Deoria

स्कूल छोड़ चुके बच्चों की खोज में खुद निकल पड़े बीईओ

Published

on

 

‘शारदा- स्कूल हर दिन आये’ अभियान, ड्राप आउट बच्चों को स्कूल लाने की कवायद

गौरीबाजार (देवरिया)। स्कूल छोड़ चुके बच्चों की खोज में बीईओ ज्ञान चन्द्र मिश्र खुद निकल पड़े। प्रशिक्षु शिक्षकों के साथ उन्होंने बुधवार को नरायनपुर के मजरे व ईंट-भठ्ठों पर रह रहे अभिभावकों से संपर्क किया। ड्राप आउट बच्चों के मिलने पर शिक्षकों को नामांकन का निर्देश दिया।
आउट आफ स्कूल बच्चों के चिन्हीकरण, पंजीकरण और नामांकन के लिए इस बार जुलाई में ‘शारदा- स्कूल हर दिन आये’ विशेष सर्वे अभियान चलाया जा रहा है। इसके लिए बेसिक शिक्षकों व प्रशिक्षुओं की टीम गठित की गई है। कार्यक्रम शारदा के अंतर्गत 6 से 14 आयु वर्ग के आउट आफ स्कूल बच्चों के चिन्हीकरण एवं पंजीकरण के लिए हाउस होल्ड सर्वे अभियान चलाया जा रहा है। यह सर्वे डीएलएड प्रशिक्षुओं, परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों, शिक्षा मित्र और अनुदेशक को अपने स्कूल के सेवित क्षेत्र में किया जाना तय किया गया है। टीम के साथ गांव, मजरे व ईंट-भठ्ठों पर सर्वे करने निकले बीईओ ज्ञान चन्द्र मिश्र ने शिक्षक रामप्रकाश सिंह, राजकुमार यादव, अरविंद दुबे, प्रशिक्षु शिक्षक सोनाली यादव, सतीश चौहान, संजीव चौहान के साथ बुधवार को नरायनपुर तिवारी के मजरे व ईंट-भठ्ठों पर रह रहे बच्चों के अभिभावकों से संपर्क किया। स्कूल छोड़ चुके छात्रों के नामांकन के लिए प्रेरित किया। उन्होंने बताया कि यह अभियान पिछले वर्ष की तुलना में इस लिहाज से अलग है कि इस बार स्कूल में कभी नामांकित न होने वाले और नामांकन के बावजूद लगातार स्कूल में 45 दिन तक गैरहाजिर रहने वाले दोनों श्रेणी के ड्रापआउट बच्चों को स्कूल लाने के लिए अभियान चलाया जा रहा है।

Continue Reading
Advertisement
Comments
error: Content is protected !!